वंशावली कैसे बनाये

वंशावली कैसे बनाये :वंशावली प्रमाण पत्र बिहार ऑनलाइन 2022

SARKARI YOJANA

वंशावली कैसे बनाये,वंशावली कैसे निकाले,वंशावली प्रमाण पत्र PDF Download कैसे करे,वंशावली फॉर्म कैसे भरे,वंशावली प्रमाण पत्र बिहार ऑनलाइन 2022 

वंशावली कैसे बनाये :- यदि आप वंशावली बनाने की सोच रहे हैं तो आप Technical Bihar सही जगह पर आए हैं ! आप यहाँ से वंशावली की प्रक्रिया के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ! यहां आपको वंशावली बनाने के साथ-साथ पूरी जानकारी मिलने वाली है ! वंशावली क्या है? इसे बनाने की प्रक्रिया ऑनलाइन या ऑफलाइन है ! वंशावली प्रमाण पत्र बिहार ऑनलाइन कैसे करें और वंशावली पीडीएफ फॉर्म कहां से प्राप्त करें ! वंशावली का क्या महत्व है? हमें वंशावली प्रमाणपत्र बनाने की आवश्यकता क्यों है? यह सारी जानकारी मिलने वाली है।

वंशावली क्या है ?

वंशावली एक परिवारिक सूची है ! जिसे आसान भाषा में समझे तो, यह आपके पूर्वजों के वंशजों के संबंध को दर्शाता है। जिसके तहत आपके पूर्वजों के सदस्यों की जानकारी आती है ! इसमें आप क्या सोचते हैं, कि आपका वंश किसका है ! यानि आप किस वंश से हैं। परिवार का कोई सदस्य जिसमें आपके पूर्वज के दादा/दादी/पिता/भाई, बहन या आपके पूर्वजों के पास उन सभी का रिकॉर्ड हो !

इस वंशावली को बनाने की आवश्यकता तब उत्पन्न होती है ! जब आपके दादा/पिता या पूर्वजों की भूमि को विभाजित करने की आवश्यकता हो ! यदि आपके परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु हो जाती है ! और आप अपने पिता या दादा के बैंक खाते से राशि निकालने जाएंगे । तो उस स्थिति में आपको अपनी वंशावली जमा करनी होगी ! वंशावली एक कागज की तरह है ! लेकिन यह आपके वंशजों के लिए सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों में से एक है। जिसे वंशावली कहा जाता है।

यहाँ पढ़े :- IPPB Aadhaar Service New Portal

वंशावली का महत्व और लाभ क्या है?

 

वंशावली का महत्व और लाभ यह है कि लोगों को पता चलता है, कि उनके पूर्वज किस जाति और जनजाति के थे। यह भी दर्शाता है कि किस धर्म का पालन किया गया और किस देवी देवता की पूजा अर्चना की गई । इसके मुख्य लाभों की बात करें तो इसका मुख्य लाभ यह है, कि यदि आपकी भूमि आपके दादा/पिता या आपके पूर्वजों के नाम पर है और जमाबंदी भी उनके नाम पर पंजीकृत है और आप चाहते हैं कि यह भूमि आपके नाम पर जमाबंदी स्थापित हो !

उस स्थिति में आपके पास वंशावली है आपके नाम पर उस जमीन की प्राप्ति में कटौती करने में महत्वपूर्ण भूमिका। अगर आप अपनी जमीन का बटवारा करना चाहते है तो आपको केवला द्वारा ही जमीन का रजिस्ट्रेशन कराना होगा, जिस पर काफी खर्चा होगा ! लेकिन अगर आप जमीन की जमाबंदी को वंशावली के द्वारा विभाजन कारते है तो आपको कोई खर्च नहीं लगेगी !

 

वंशावली फॉर्म भरने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • फोर्मेट फॉर्म
  • सरपंच के लेटर पेड विवरण

यहाँ पढ़े :- Bihar Ration Dealer Vacancy 2022

वंशावली के प्रकार

 

वंशावली मुख्य रूप से दो प्रकार से बनती है, जो इस प्रकार है:-

  • पंचायत द्वरा (Genealogy one from your Panchayat level)
  • Court द्वारा (Genealogy one from your Panchayat level)

वंशावली कैसे बनाये

(!) पंचायत द्वरा (Genealogy one from your Panchayat level) :-

यदि आप अपनी पंचायत द्वारा वंशावली बनाते हैं, तो आपको कोई खर्च नहीं करना पड़ेगा। सबसे पहले आपको अपनी पंचायत के सरपंच के पास जाना होगा। क्योंकि पंचायत स्तर से बनाने की प्रक्रिया में आप अपने पंचायत निधि सरपंच द्वारा बनाये जाते हैं ! आपको सरपंच के लेटर पेड पर एक सिद्रुल तैयार करवाना होगा। जिसमें आपकी हिसदारो की डिटेल दी जाएगी।

तब आपके परिवार के सदस्यों को सहमती लिया जाएगा। सरपंच उसे अपने स्तर से Verify करेगा ! जब आप इन सभी प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद आपको अपनी जमीन में जो भी हिस्सा है ! उसके अनुसार दाखिल खारिज करने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा ! उस स्थिति में जब आपकी जमीन पहले से ही खारिज नहीं की गई हो !

अगर आपके दादा/पिता या पूर्वजों के नाम पर जमाबंदी और जमीन की रसीद काटी जा रही है ! उस स्थिति में आपको सीधे अपने कर्मचारी से मिलना होगा और उसे एक आवेदन देना होगा ! जिसमें दरसाना होगा कि जमीन का जमबंदी दर्ज है और मेरे हिस्से का मेरे नाम से अलग किया जाए। तब जाके हिस्से की जमीन हमारे  नाम से जमाबंदी से अलग हो जाएगी ! जब इन सभी प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद आप अपनी जमीन की रसीद ऑनलाइन के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

यहाँ पढ़े :- Bihar Labour Card Online Apply

कोर्ट द्वारा वंशावली प्रमाण पत्र

(!!) Court द्वारा (Genealogy one from your Panchayat level):-

यदि आप कोर्ट द्वारा वंशावली बनवाते हैं तो आपको कुछ राशी खर्च करनी होगी। जिसके लिए आपको एक वकील को हायर करना होगा ! फिर कोर्ट द्वारा सारे कागजात तैयार करने के बाद, जितने भी सदस्य इनमे हिस्सादरी होगी सभी को एक गारफ बनना होगा ! जिसमें सभी हिस्सेदार हिस्सा लेंगे ! सभी तैयार कागजातों पर हिस्सादरो की सहमति लेनी होगी ।

जब आप इन सभी कार्यों को पूरा कर लेंगे, तब आप अपने कोर्ट के वरिष्ठ अधिकारी से सत्यापित करवाएंगे। उसके बाद आप अपनी जमबंदी को वंशवाली के अनुसार अलग करवा सकते हैं।जमाबंदी को अलग करने के लिए आपको अपने कर्मचारी / CO से मिलना होगा ! मिलने पे आपको एक आवेदन देने होगा ! जिस आवेदन में वंशावली की जानकारी होनी चाहिए।

यहाँ पढ़े :- Inter scholarship 2022 apply online

ग्राफ – 

 

Important Link

Dakhil Kharij Online Click Here
Jamin Rasid Online Bihar Click Here
वंशावली फॉर्म
Click Here
पंचायत द्वरा वंशावली Click Here
Court द्वारा वंशावली Click Here
Official Website Click Here

 

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQ’s)

वंशावली कैसे बनाये

वंशावली आप दो तरह से बना सकते हैं, एक अपने पंचायत स्तर से और दूसरा Court से, दोनों प्रक्रियाओं का वर्णन इस Article में किया गया है।

क्या वंशावली ऑनलाइन बनाई जा सकती है

नहीं, आपको वंशावली केवल ऑफ़लाइन बनानी है !

वंशावली बनाने में कितना खर्च आएगा

इसको बनाने में पंचायत स्तर की ओर से कोई खर्च नहीं होगा लेकिन कोर्ट से बनवाने में खर्चा होगा लेकिन बहुत कम ।

वंशावली कितने प्रकार से बनता है

वंशावली मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है जो पहली वंशावली आपके पंचायत स्तर से और दूसरी वंशावली आपके कोर्ट स्तर से बनता है ।

Read Also :-

How to improve seo wordpress site

Keyphrase in introduction

New voter card apply online

इंटरनेट क्या है और यह कैसे काम करता है?

दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि यह पोस्ट आपसबो को पसंद आई होगी, अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप अपने सवाल हमारे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं और आप इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ जरूर शेयर करें ।

1 thought on “वंशावली कैसे बनाये :वंशावली प्रमाण पत्र बिहार ऑनलाइन 2022

Leave a Reply